Taarak Mehta Ka Ooltah Chashmah fame Atul Virkar Sold newspapers in financial crisis, son struggling with rare disease | ‘Taarak Mehta…’ फेम एक्टर ने तंगहाली में बेचे अखबार और अगरबत्ती, बेटे को है ये दुर्लभ बीमारी

नई दिल्ली: फेमस टीवी शो ‘तारक मेहता का उल्टा चश्मा’ (Taarak Mehta Ka Ooltah Chashmah) और कई  हिंदी और मराठी फिल्मों में नजर आ चुके एक्टर अतुल वीरकर (Atul Virkar) के सितारे इन दिनों गर्दिश में चल रहे हैं. वक्त का पहिया कुछ ऐसा घूमा कि यह कलाकार आर्थिक तंगी के चलते अखबार और अगरबत्ती बेचने जैसे काम करके जीवन का गुजारा कर रहा है. 

जानिए क्या है तंगहाली की वजह 

बीते साल से ही टीवी इंडस्ट्री के कई सितारे आर्थिक तंगी का सामना कर रहे हैं. कोरोना वायरस के कारण लगे लॉकडाउन परेशानी आए परिवारों में से एक अतुल वीरकर (Atul Virkar) का परिवार भी है. जहां एक ओर काम न मिलने से उनके पास पैसों की तंगी है वहीं उनका बेटा बहुत ही दुर्लभ बीमारी AHDS (Allan-Herndon-Dudley syndrome) से पीड़ित है.

ऐसे किया गुजारा

ईटाइम्स टीवी की खबर के अनुसार जब बीते साल शूटिंग रुकने पर अभिनेताओं पर आर्थिक संकट आया तो कुछ ने फल-सब्जियां और राखी बेचकर गुजारा किया. वहीं अतुल वीरकर (Atul Virkar struggle) का परिवार भी काफी लंबे समय से परेशानियों का मुकाबला कर रहा है. उन्होंने भी इस समय में अगरबत्ती और अखबर बेचकर जीवन यापन करने का फैसला लिया.

बेटे के लिए नहीं दवा 

मीडिया से बातचीत में अतुल वीरकर ने कहा, ‘लॉकडाउन ने सिर्फ मुझे ही नहीं बल्कि हर किसी को प्रभावित किया है. लेकिन मेरे साथ थोड़ी अलग ही परेशानी है. क्योंकि इस मेरा बेटा वक्त गंभीर बीमारी से लड़ रहा है. वह बाकी सामान्य बच्चों की तरह खड़ा नहीं हो सकता है और न ही कुछ और काम कर सकता है. वह हमेशा बिस्तर पर पड़ा रहता है.’

देश में नहीं है इलाज 

अतुल वीरकर ने बेटे की बीमारी के बारे में बताते हुए कहा, ‘AHDS काफी दुर्लभ बीमारी है. बेटे का इलाज हम लोग करवा रहे हैं, पर भारत में उस बीमारी की कोई दवाई नहीं है. मुझे कुछ डॉक्टरों से पता चला कि मेरे बेटे के इलाज का एक ही रास्ता है और वह है नीदरलैंड्स से दवाइयां मंगवाना. यह उन देशों में से एक है जो AHDS पेशेंट्स के इलाज के लिए दवाइयां बनाता है.’

सपोर्ट की है उम्मीद 

इन दिनों अतुल वीरकर अपने बेटे की बीमारी को दूर करने और उसके इलाज के लिए पैसे जुटाने की कोशिशों में जुटे हुए हैं. उन्होंने कहा, ‘मैं इंडस्ट्री में काफी सालों से हूं. मैंने ‘तारक मेहता का उल्टा चश्मा’ में भी काम किया. कई मराठी टीवी शोज भी किए. कई ऐक्टर्स हैं जो आर्थिक रूप से मेरी मदद कर रहे हैं और मैं खुश हूं. मुझे किसी से ज्यादा उम्मीद नहीं है पर मैं सबका सपॉर्ट चाहता हूं.’ 

पंडित भी हैं अतुल वीरकर 

अतुल वीरकर के करियर के बारे में बात करें तो वह सिर्फ एक अभिनेता ही नहीं बल्कि इंडस्ट्री के पंडित के तौर पर भी पहचाने जाते हैं. उन्होंने कहा, ‘मैंने शुरुआत से बहुत स्ट्रगल किया है. मैं जब टीनेजर था तो मेरे पिता गुजर गए. मैं पहले मंगांव में रहता था और वहां से शूटिंग पर मुंबई आता था. मैं पंडित भी हूं और इंडस्ट्री में लोग पंडित के रूप में भी मुझे जानते हैं. मैंने कई फिल्मों के मुहूर्त करवाए हैं. ऑफ-स्क्रीन और ऑन-स्क्रीन पूजा भी करवाई है.’ 

इसे भी पढ़ें: मरने से पहले एक्टर ने लिखी फेसबुक पोस्ट, ‘अच्छा इलाज मिलता तो मुझे बचाया जा सकता था’

एंटरटेनमेंट की लेटेस्ट और इंटरेस्टिंग खबरों के लिए यहां क्लिक कर Zee News के Entertainment Facebook Page को लाइक करें