Metropolitan Magistrate Court Asks Police To Investigate Javed Akhtar Defamation Complaint Against Kangana Ranaut | Defamation case: जावेद अख्तर ने बढ़ाई Kangana Ranaut की मुश्किल, 16 जनवरी तक पुलिस सौंपेगी रिपोर्ट

मुंबई: मुंबई (Mumbai) की एक अदालत ने शनिवार को पुलिस को निर्देश दिया कि वह अभिनेत्री कंगना रनौत () के खिलाफ गीतकार जावेद अख्तर की मानहानि की शिकायत की जांच करे और 16 जनवरी तक रिपोर्ट सौंपे.

मेट्रोपॉलिटिन मजिस्ट्रेट (अंधेरी) की अदालत में मामला
गीतकार और पटकथा लेखक जावेद अख्तर ने टीवी साक्षात्कारों में उनके बारे में अपमानजनक और निराधार आरोप लगाने पर पिछले महीने अंधेरी मेट्रोपॉलिटिन मजिस्ट्रेट (Metropolitan Magistrate Court, Andheri) की अदालत में रनौत के खिलाफ आपराधिक शिकायत दर्ज कराई थी. उन्होंने कानून की प्रासंगिक धाराओं के तहत अभिनेत्री के खिलाफ कार्रवाई की मांग की थी.

जावेद अख्तर (Javed Akhtar) के वकील निरंजन मुंदारगी ने कहा कि मजिस्ट्रेट अदालत ने शनिवार को जुहू पुलिस से मामले की जांच करने और 16 जनवरी तक रिपोर्ट जमा कराने को कहा है. 

सुनवाई के दौरान गीतकार अदालत में मौजूद थे.

ये भी देखिए – पैरेंट्स ने नष्ट कर दिया बेटे का Pornography Collection, अब भरना होगा जुर्माना
 

55 साल में कमाई प्रतिष्ठा और नाम खराब हुआ:
उनके वकील ने दलील दी कि पिछले 55 सालों में अख्तर ने अपनी प्रतिष्ठा बनाई है. उन्होंने कहा कि रनौत ने टीवी और सोशल मीडिया पर उनके खिलाफ निराधार टिप्पणियां कीं जिससे उनकी प्रतिष्ठा को नुकसान पहुंचा.

Kangana ने लगाया था मंडली में  शामिल होने का आरोप
अख्तर ने अपनी शिकायत में आरोप लगाया कि इस साल जून में अभिनेता सुशांत सिंह राजपूत की मौत के बाद बॉलीवुड में मौजूद एक “मंडली” का संदर्भ देते हुए रनौत ने उनका नाम भी घसीटा था.

इसमें कहा गया कि रनौत ने यह दावा भी किया कि अख्तर ने उन्हें अभिनेता रितिक रोशन (Hrithik Roshan) के साथ अपने कथित रिश्ते के बारे में न बोलने को लेकर भी धमकी दी थी.

शिकायत में कहा गया कि रनौत द्वारा दिये गए इन सभी बयानों को लाखों लोगों ने देखा और इससे अख्तर की प्रतिष्ठा धूमिल हुई.

LIVE TV